तेनाली रामा की कहानियां: मनहूस कौन

राजा कृष्णदेव राय के राज्य में चेलाराम नाम का एक व्यक्ति रहता था। वह राज्य में इस बात से प्रसिद्ध था कि अगर कोई सुबह-सवेरे उसका चेहरा सबसे पहले देख ले तो उसे दिनभर खाने को कुछ नहीं मिलता। लोग उसे मनहूस कहकर पुकारते थे। बेचारा चेलाराम इस बात से दुखी तो होता, लेकिन फिर … Read more

Hindi Story – राज्य में कौए कितने हैं (अकबर और बीरबल)

अकबर और बीरबल दोनों बगीचे में टहल रहे थे। तभी अकबर कि नजर बगीचे में उड रहे कौओं पर पड़ी तो अकबर कुछ सोच कर बोले। बीरबल क्या तुम बता सकते हो कि , हमारे राज्य में कितने कौए होंगे”? बीरबल को लगा यह क्या पुछ रहे हैं, जहापना? भला कोई पक्षी को भी गिन … Read more

Hindi Story – यह हुजूर का दिया है (अकबर और बीरबल)

सर्दी और गर्मी के बीच का मौसम बहुत ही सुहाना होता है। क्योकि ना तो ठंड लगती है, ना ही गर्मी।एक दिन अकबर ने कहा बीरबल मौसम बहुत ही अच्छा हैं। तो इसका मजा उठाया जाए कही घूमने चला जाय। बीरबल ने कहा क्यो नहीं हुजूर चलिए और दोनों अपने-अपने घोड़े पे सवार हो कर … Read more

तेनाली रामा की कहानियां: शिल्पी की अद्‌भुत मांग

विजयनगर के महाराज कृष्णदेव हर बार तेनालीराम की सूझबूझ से दंग रह जाते थे। इस बार भी तेनालीराम ने महाराज को हैरान कर दिया। दरअसल, एक बार महाराज कृष्णदेव पड़ोस के राज्य पर जीत हासिल करके विजयनगर लौटे और उन्होंने उत्सव मनाने की घोषणा कर दी। पूरे नगर को ऐसे सजाया गया जैसे कोई बड़ा … Read more

Hindi Story – पैर और चप्पल (अकबर और बीरबल)

बीरबल एक अच्छे दिल वाले मंत्री थे। वो हमेशा दान पुण्य का काम किया करते, यहा तक की जब भी उनके किसी काम पर खुश होकर बादशाह उन्हे इनाम देते थे, उसे भी वह दान दे दिया करते थे। इतना दान दक्षिणा करने के बाद भी उनके पास धन कम नहीं पड़ता था। बीरबल एक … Read more

Hindi Story – हरा घोड़ा (अकबर और बीरबल)

अकबर घोड़े में बैठकर बागीचे में घूमने को निकले। उनके साथ बीरबल भी थे। हर तरफ  फलो से लदे हुए वृक्ष देखने में बहुत सुंदर लग रहे थे। अकबर को यह दृश्य बहुत ही अच्छे लग रहे थे। चारों तरफ हरा-भरा नजारा देख कर अकबर के मन मे आया कि जब हर तरफ हरियाली हैं … Read more

Hindi Story- सबसे बड़ी चीज (अकबर और बीरबल)

बीरबल अकबर का करीबी मंत्री था। अकबर के नव रत्नो मे भी सामिल था। जिस कारण से बाकी मंत्री बीरबल से चिढ़ते थे। जब कभी ऐसा होता की बीरबल किसी कारण से दरबार में ना रहते। उस वक्त उनसे चिढ़ने वाले उनके खिलाफ अकबर से बीरबल की खूब बुराई करते थे। हमेशा कि तरह एक … Read more

तेनाली रामा की कहानी: नली का कमाल

एक बार राजा कृष्णदेव राय अपने दरबारियों के साथ चर्चा कर रहे थे। चर्चा करते-करते अचानक बात चतुराई पर होने लगी। महाराज कृष्णदेव राय के दरबार में राजगुरु से लेकर कई अन्य दरबारी तेनालीराम से जलते थे। ऐसे में, तेनालीराम को नीचा दिखाने के लिए एक मंत्री दरबार में बोल पड़ा कि, “महाराज! दरबार में … Read more

तेनाली रामा की कहानियां: सुनहरा पौधा

तेनालीराम हर बार अपने दिमाग का इस्तेमाल करके ऐसा कुछ करते थे कि विजय नगर के महाराज कृष्णदेव दंग रह जाते थे। इस बार उन्होंने एक तरकीब से राजा को अपने फैसले पर दोबारा विचार करने को मजबूर कर दिया। हुआ यूं कि एक बार राजा कृष्णदेव किसी काम के चलते कश्मीर चले गए। वहां … Read more

Hindi Story – सारा जग बेईमान (अकबर और बीरबल)

अकबर को हमेशा यह लगता था कि उसकी प्रजा बहुत ज्यादा ईमानदार है। अकबर अपने आप को बहुत खुशकिस्मत मानता था। उसे यह भी भ्रम था कि उसकी प्रजा उसे बहुत चाहती भी हैं। अकबर ने बीरबल को अपने मन कि यह बात बताई, बीरबल ने अकबर को तुरन्त उत्तर दिया, ’‘हुजूर! आप जैसा सोचते … Read more